Akshra Singh’s Bahangi Lachkat Jaaye in Hindi

॥ Bahangi Lachkat Jaaye Hindi Lyrics ॥

[ म्यूजिक ]

कांच ही बॉस के बहंगिया बहंगी लचकत जाए,
( बहंगी लचकत जाए ..)
पेन्ही न पवन जी पियरिया दउरा घाटे पहुचाये …
(दउरा घाटे पहुचाये … )

कांच ही बॉस के बहंगिया बहंगी लचकत जाए,
( बहंगी लचकत जाए ..)
पेन्ही न पवन जी पियरिया दउरा घाटे पहुचाये …
(दउरा घाटे पहुचाये … )..

[ म्यूजिक ]

दउरा में सजल बाटे फल फलहरिया,
पियरे पियर रंग शोभे ला डगरिया,
दउरा में सजल बाटे फल फलहरिया,
पियरे पियर रंग शोभे ला डगरिया …

जेकर जाग जाला भगिया उह्हे छठ घाटे आये,
(उह्हे छठ घाटे आये..)
पेन्ही न पवन जी पियरिया दउरा घाटे पहुचाये …
(दउरा घाटे पहुचाये … )..

[ म्यूजिक ]

छठी माई चहिहे न होई कवनो कमी,
घरवा में भरल रही अन्न धन लक्ष्मी,
छठी माई चहिहे न होई कवनो कमी,
घरवा में भरल रही अन्न धन लक्ष्मी…

अक्षरा करे ली पूजनीया,
गीत छठी माई के गाये,
( बहंगी लचकत जाए ..)
कांच ही बॉस के बहंगिया बहंगी लचकत जाए,
( बहंगी लचकत जाए ..)
पेन्ही न पवन जी पियरिया दउरा घाटे पहुचाये …
(दउरा घाटे पहुचाये … )

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *